Search This Blog

Thursday, July 9, 2020

सफल व्यापारी

लोग पुँछते है
कैसे कमा लेते हो
हर चीज में सोना
कैसे तराश लेते हो
मै मुस्कुराके छोटासा
जवाब देता हूँ
मै भी आप जैसा ही
आम इंसान हूँ
बस थोड़ा
सोचता अलग हूँ
और सोच लिया तो
करता जरूर हूँ
जब नुकसान से
दुनिया डर जाती है
खुदको बचाने के लिए
पीछे हट जाती है
मेरी अनोखी सोच
वहीं से शुरू होती है
सफलता की पहली
सीढ़ी बन जाती है
मै अपना रास्ता
अलग चुनता हूँ
ठोकर खाकर
खुद ही संभलता हूँ
असफलता का डर
मै पालता नही
क्योंकि मेरा रास्ता
होता है सही
मेरी मेहनत ही
मेरा वजूद है
मेरी सफलता ही
उसका सबुत है
मेरे सपने ही
मेरा रहस्य है
आपको लगता है
वजह कोई और है
जब आम लोग
हजारो की सोचते है
तब मै करोडो में
खेलता हूँ
लोग जिंदगी
गवाँ देते है
मै पल में
समेट लेता हूँ
मेरा काम
मेरे वक्त की
कीमत तय करता है
आप का तो वक्त भी
कोई और खरीद लेता है
अपनी लगन से
मै बन जाता हूँ
सफल व्यापारी
तो लोग सोचते हो
मै पड़ गया
उन सब पे भारी
बस यही तो
बेतुकी बात है
जिसमें लोग
समय गंवाते है
मुझे औरों से
अलग दिखलाते है
खुद हाथ पर हाथ
धरे रहते है
अपने कर्म को छोड़
नसीब को कोसते है

- राणी अमोल मोरे

Central Pension Processing Centre: Latest News & Videos, Photos about  Central Pension Processing Centre | The Economic Times

4 comments:

  1. Managing business is not a easy task..people only watch the success not the efforts.. very effectively expressed the feelings of businessmen..

    ReplyDelete
  2. विचार बदला, आयुष्य बदलेल.कवितेची सुंदर मांडणी

    ReplyDelete
  3. सोच बहोत मायने रखती है। बिझनेस मे डटे रहना होता है चाहे कितना भी मुश्किल समय आये तभी सफलता कदम चुमती है ।

    ReplyDelete
  4. बहुत अच्छा विश्लेषण keep it up

    ReplyDelete

Your valuable comments are highly appreciated and very much useful to further improve contents in this Blog.

Recent Posts

पर्यावर्णिय बदल, मानसाच्या जाती आणि आरक्षणे

सध्या परिस्थितीचा विचार लक्षात घेता असे दिसून येते की मानसाला भविष्यामध्ये स्वत:ला माणूस म्हणून टिकून राहण्यापेक्षा स्वत:च्या जाती धर्मांची ...

Most Popular Posts